आगरा में चाय के शौकीन लोग चाय पीने के बाद कुल्हड़ खा जाते हैं, स्पेशल कुल्हड़ तमिलनाडु से मंगाते हैं

आगरा में चाय के शौकीन को “इको फ्रेंडली चाय वाला” कैफे की कुल्हड़ की चाय काफी पसंद आ रही है। यहां लोग चाय पीने के बाद कुल्हड़ खा जाते हैं। कुल्हड़ को चावल से बनाया गया है, जो पूरी तरह से खाने योग्य है। दो दोस्त आशीष पराशर और ओम झा ने स्टार्टअप शुरू शुरू किया है। अब वह हर दिन 6 हजार कमा रहे हैं।

आशीष ने बताया, “एक दिन फेसबुक पर रील देख रहा था। उसमें एक रील दिखाई दी। जिसमें चाय के बाद लोग कप को खा रहे थे। मुझे यह रील बहुत अच्छा लगा। इसके बाद दोस्त के साथ मिलकर खाने वाले कुल्हड़ की चाय कैफे खोलने का मन बनाया। खाने वाले कप में तीन तरह के फ्लेवर में हैं। इसके अलावा करीब 15 तरह की चाय मिलती है। हर चाय का रेट 15 रुपए से शुरू होता है। एक दिन में करीब 400 कप चाय बेच लेता हूं। कप को खाने पर इलायची और चॉकलेट का स्वाद आता है।”

ट्रांस यमुना कालोनी के रहने वाले आशीष पाराशर और फतेहाबाद के रहने वाले ओम झा दोस्त हैं। दोनों ने BSC की पढ़ाई एक साथ की है। इसके बाद आशीष ने MSC करने के बाद स्लीपवेल गद्दे की कंपनी में सालाना करीब तीन लाख पैकेज की नौकरी शुरू की। वहीं, ओम पॉलीकैप पाइप कंपनी साढे़ तीन लाख सालाना पैकेज से नौकरी शुरू की। मगर, कुछ साल बाद कोविड लॉकडाउन में दोनों की नौकरी चली गई। कोविड के दौरान हालात ठीक हुए तो दोस्तों ने नौकरी के बारे में सोचा। हालांकि कही नौकरी नहीं मिली।