आगरा का ऐसा परीक्षा केंद्र जहां बिजली का कनेक्शन भी नहीं, न दरवाजे-खिड़की भी नहीं

दरवाजे हैं न खिड़की, फर्नीचर है न विद्युत कनेक्शन। कमरों में दो-दो सीसीटीवी कैमरे और वायस रिकार्डर सिस्टम तक नहीं, बावजूद इसके विद्यालय में उप्र माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा कराने की तैयारी है। बोर्ड द्वारा जारी प्रथम केंद्र सूची में ऐसे मानक पूरे न करने वाले विद्यालय भी केंद्र बना दिए गए हैं।

बोर्ड द्वारा जारी पहली सूची में जिले के 176 विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। इनमें से ही एक है बालूगंज स्थित सहायता प्राप्त हुब्बलाल इंटर कालेज। विद्यालय में बोर्ड ने हाईस्कूल के 327 और इंटरमीडिएट के 314 समेत कुल 641 विद्यार्थियों का केंद्र बनाया है लेकिन विद्यालय में संसाधनों की भारी कमी है। सिर्फ छह कमरों में ही फर्नीचर और एक-एक सीसीटीवी कैमरा व वायस रिकार्डर जैसे संसाधन उपलब्ध हैं, जिनमें 300 परीक्षार्थियों बैठ सकते हैं। शेष कमरों में खिड़की है न दरवाजे, फर्नीचर है न सीसीटीवी कैमरे व वायस रिकार्डर। पीने के पानी तक की व्यवस्था भी नहीं है।