कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कांग्रेस के सभी पदों से इस्तीफा दिया

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कांग्रेस के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। गुलाम नबी आजाद के इस्तीफे के बाद सियासत गर्म हो गई है। अपने इस्तीफे में गुलाम नबी आजाद ने कई गंभीर आरोप लगाए हैं। वहीं, इसको लेकर कांग्रेस की तरफ से पलटवार किया गया है।

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने मीडिया को संबोधित करते हुए मुलाम नबी का इस समय इस्तीफा देना दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। जयराम रमेश ने कहा कि ये समय गरीबों की आवाज उठाने का है लेकिन उन्होंने इस्तीफा दे दिया। कांग्रेस इस समय सरकार के खिलाफ जोरदार अभियान चला रही है। ऐसे समय में उनको साथ देना चाहिए था लेकिन उन्होंने इस्तीफा दे दिया है, जो दुर्भाग्यपूर्ण है।

बता दें कि, गुलाम नबी आजाद आज कांग्रेस के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। दरअसल, वो लंबे समय से नाराज चल रहे थे। काफी दिनों से ये अटकलें भी लगाई जा रही थी कि वो पार्टी को छोड़ सकते हैं। कांग्रेस को भेजे गए पांच पृष्ट के त्यागपत्र में आजाद ने कहा कि वे भारी मन से पार्टी से इस्तीफा दे रहे हैं।

महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर नहीं बने हिस्सा

गुलाम नबी आजाद के कांग्रेस छोड़ने के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता इस पर अपनी राय दे रहे हैं। अजय माकान ने कहा कि हमने गुलाम नबी आजाद साहब का इस्तीफा पत्र देखा। दुख की बात है कि उन्होंने ऐसे समय में कांग्रेस छोड़ने का फैसला किया जब कांग्रेस देश भर में बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी, ध्रुवीकरण की लड़ाई लड़ने जा रही है। दुख की बात है कि वे इस लड़ाई में हिस्सा नहीं बन रहे।