रेलवे विजिलेंस की टीम ने आगरा फोर्ट रेलवे स्टेशन पर छापा मारा

गुरुवार को रेलवे विजिलेंस की टीम ने आगरा फोर्ट रेलवे स्टेशन पर छापा मारा। रेलवे विजिलेंस की टीम ने तत्काल टिकट बुकिंग काउंटर पर यात्रियों से पूछताछ की। यात्री की जगह दूसरे व्यक्ति द्वारा टिकट बनवाने पर व्यक्ति से पूछताछ की।

फोर्ट स्टेशन की टिकट बुकिंग विंडो पर सुबह तत्काल टिकट के लिए यात्रियों की लाइन लग रही थी। इसी बीच विजिलेंस की टीम पहुंची। टीम सीधे चीफ रिवर्जेशन सुपरवाइजर देवी सिंह के ऑफिस में गई। टीम ने जाते ही ऑफिस को बंद कर लिया। सुपरवाइजर से तत्काल टिकट की जानकारी मांगी।

इसमें उन्होंने रांची की एक टिकट के बारे में पता किया। यात्री की डिटेल निकलवाई गई। टीम ने यात्री को बुलाया। यात्री ने बताया कि वो सरकारी विभाग में कार्यरत हैं। ऐसे में टिकट बुक कराने के लिए आ नहीं पाए थे। उन्होंने स्टेशन के बाहर ढाबा चलाने वाले अपने मित्र बबलू की मदद से टिकट बुक कराई। टीम ने उनसे अतिरिक्त शुल्क के बारे में पूछा तो उन्होंने कोई अतिरिक्त शुल्क न देने की बात कही।

ढाबा संचालक से की पूछताछ

तत्काल टिकट बुकिंग में गड़बड़ी की आशंका पर टीम ने ढाबा संचालक को उठा लिया। स्टेशन पर लाकर उससे पूछताछ की गई। लंबी पूछताछ के बाद टीम वहां से चली गई। आगरा रेल मंडल पीआरओ प्रशास्ति श्रीवास्तव ने बताया कि विजिलेंस टीम आने की जानकारी मिली है। टीम ने क्या कार्रवाई की, इसके बारे में नहीं पता। विजिलेंस टीम अपनी कार्रवाई की रिपोर्ट मुख्यालय में देगी।