गाजियाबाद की तर्ज पर सिटी बस सेवा ग्रेटर नोएडा में भी चालने के लिए तैयारी

ग्रेटर नोएडा में सिटी बस चालने के लिए अब अथॉरिटी एक नया प्लान लेकर आई है. प्लान के तहत गाजियाबाद की तर्ज पर सिटी बस सेवा के लिए इलेक्ट्रिक बसें चलाई जाएंगी. इसके लिए इलेक्ट्रिक मिनी बसें खरीदी जाएंगी. गाजियाबाद ही नहीं यूपी के आगरा और अलीगढ़ में भी इलेक्ट्रिक बसें चल रही हैं. गौरतलब रहे इसी साल जनवरी से ग्रेटर नोएडा में सिटी बस सेवा शुरू हुई थी. लेकिन 6 महीने में ही सिटी बस सर्विस हांफने लगी. हर महीने लाखों रुपये का नुकसान हो रहा है. ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने यूपी रोडवेज के साथ मिलकर सिटी बस सर्विस शुरू की थी.

6 महीने बाद भी संचालन और रूट में नहीं हुआ बदलाव

फ्लैट बॉयर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अन्नु खान का आरोप है कि 6 महीने पहले ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी और यूपी रोडवेज ने 10 बसों और 5 रूट के साथ सिटी बस सर्विस शुरू की थी. लेकिन अफसोस की बात यह है कि आज भी बसों और रूट की संख्या वही है. उसमे कोई बदलाव नहीं किया गया है. 6 महीने में न तो बसों की संख्या बढ़ी और न ही रूट 5 से 6 या 7 हुए. हालांकि उस वक्त अधिकारियों की ओर से कहा गया। था कि बसों की संख्या और रूट को बढ़ाया जाएगा. लेकिन अभी तक न तो बसें 10 से 11 हुई और न ही रूट 5 से 6 हुए