Twitter Trend : नारों के बीच पैतृक गांव पहुंचा कन्हैयालाल का पार्थिव शरीर, इस दौरान ‘कन्हैया अमर रहें’ के नारे लगे

उदयपुर में जघन्य हत्या के बाद पूरे शहर में जगह-जगह पुलिस तैनात कर दी गई है। सात थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं पूरे राजस्थान में 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद है।

कन्हैया अमर रहें के नारे लगे

कन्हैयालाल का पार्थिव शरीर उनके घर पहुंच गया है। उनके घर के बाहर भीड़ लग गई है। इस दौरान ‘कन्हैया अमर रहें’ के नारे लगे। वहीं पुलिस के खिलाफ भी नारेबाजी की जा रही है।

उदयपुर घटना की ओवैसी ने की कड़ी निंदा

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने उदयपुर की घटना की कड़ी निंदा की है। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि राजस्थान सरकार सख्त कार्रवाई करेगी। पुलिस ज्यादा सतर्क होती तो ऐसा नहीं होता। कट्टरता फैल रही है। नूपुर शर्मा को गिरफ्तार किया जाना चाहिए केवल निलंबन पर्याप्त नहीं था।

एनआईए करेगी हत्याकांड की जांच

अब एनआईए उदयपुर हत्याकांड की जांच करेगी। गृह मंत्रालय ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को हत्याकांड की जांच अपने हाथ में लेने का निर्देश दिया है। गृह मंत्रालय ने कहा कि इस हत्याकांड में किसी भी संगठन की संलिप्तता और अंतरराष्ट्रीय लिंक की गहन जांच की जाएगी।

अंतिम संस्कार को लेकर परिजन और पुलिस में विवाद

पोस्टमार्टम के बाद कन्हैयालाल के पार्थिव शरीर को परिजन घर के लिए रवाना हुए। अंतिम संस्कार को लेकर परिजनों और पुलिस में विवाद हो गया। पुलिस ने परिवार को घर के पास ही अंतिम संस्कार करने को कहा लेकिन परिवार और समाज के लोग अशोक नगर श्मशान में अंतिम संस्कार की मांग पर अड़ गए। जिसके बाद पुलिस ने अशोक नगर श्मशान घाट पर अंत्येष्टी की मंजूरी दे दी।

आज होगा कन्हैयालाल का अंतिम संस्कार

कन्हैयालाल साहू के शव का पोस्टमॉर्टम पूरा हो गया है। आज ही उसका अंतिम संस्कार किया जाएगा। पोस्टमार्टम के दौरान नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया एमबी अस्पताल के बाहर मौजूद रहे। उन्होंने पीड़ित परिवार से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि यह मामला पूरा एक ही व्यक्ति ने नहीं किया है। इसके पीछे कोई न कोई एजेंसी लगी हुई है। उन्होंने कहा कि मैं इस घटना के पीछे लगा रहूंगा और इस गैंग का पर्दाफाश कर रहूंगा।