कानपुर में मरीजों के साथ मारपीट करते पकड़े गए जूनियर डॉक्टर परीक्षा से डिबार

उत्तरप्रदेश : जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज में मरीजों के साथ मारपीट करते पकड़े गए जेआर आदित्य को जांच कमेटी की रिपोर्ट के बाद परीक्षा देने से रोक दिया गया. हैलट में दलाली का खुलासा होने के बाद संजय कला की ओर से प्राचार्य प्रो. जांच कमेटी का गठन किया गया. जेआर की पहली गलती को ध्यान में रखते हुए कमेटी ने कोई बड़ा फैसला नहीं लिया। इससे पहले, उनके चरित्र रजिस्टर में प्रतिकूल टिप्पणी का फैसला किया गया था क्योंकि आरोपी जेआर अपनी गलती स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं थे। कमेटी ने सीसीटीवी की फुटेज सामने रखी तो उसकी हवा निकल गई। साथ ही उन्हें 3 महीने बिना वेतन के काम करना होगा। इस दौरान झुग्गी-झोपड़ी में काम करने के आदेश दिए गए हैं। थाने में पकड़ा गया दलाल : हैलट के सुरक्षा गार्डों ने अभिषेक सिंह नाम के एक दलाल को पकड़कर स्वरूप नगर पुलिस के हवाले कर दिया.