इलाहाबाद हाईकोर्ट की ओर से सफल अभ्यार्थियों को सर्टिफिकेट जारी करने पर रोक लगा दी

एक याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई करते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट में यूपीटीईटी 2021 के सफल अभ्यर्थियों को सर्टिफिकेट जारी करने पर रोक लगा दिया।

यूपीटीईटी 2021

यूपीटीईटी 2021 में सफल अभ्यार्थियों को इलाहाबाद हाईकोर्ट की ओर से बड़ा झटका दिया गया है। बीते दिन कोर्ट ने इस मामले पर सुनवाई करते हुए यह आदेश दिया कि जनवरी 2022 में आयोजित हुई यूपीटीईटी 2021 की परीक्षा में उत्तीर्ण अभ्यार्थियों को सर्टिफिकेट नहीं जारी किया जाएगा। बता दें प्रतीक मिश्रा वह कई अन्य लोगों की ओर से इलाहाबाद हाई कोर्ट में याचिका दायर की गई है कि B.Ed डिग्री धारकों को प्राइमरी लेवल में शामिल ना किया जाए।

बीएड डिग्री धारकों को टीईटी प्राइमरी लेवल (TET) Primary Level) में शामिल ना करने के लिए हाईकोर्ट में दायर की गई। याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई करते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 23 जनवरी 2022 को आयोजित हुई यूपीटीईटी 2021 के पुत्र अभ्यार्थियों को बड़ा झटका देते हुए यह आदेश दिया कि इन सभी छात्रों के सर्टिफिकेट जारी करने पर रोक लगाया जाए। साथ ही कोर्ट ने इस मामले को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) से जवाब तलब किया है। हाई कोर्ट इस मामले पर अगली सुनवाई अब सोमवार 16 मई को करेगा।