Agra News: आगरा से अगवा ढाई साल का बच्चा वृंदावन में मिला, दो आरोपी गिरफ्तार, ऐसे मिला था सुराग

आगरा के थाना शाहगंज क्षेत्र के दौरेठा नंबर 2 से अगवा ढाई साल के मयंक को पुलिस ने मथुरा के वृंदावन से सकुशल बरामद कर लिया है। उसे एक युवक घर के बाहर से अगवा कर ले गया था। इसके बाद अपने दोस्त को दे दिया था। पुलिस को सीसीटीवी फुटेज से आरोपी का सुराग मिला था। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इधर, मासूम मयंक के मिलने के बाद जयप्रकाश के घर में खुशियां लौट आई हैं।

बता दें कि आजमपाड़ा के सत्यम नगर निवासी जयप्रकाश परचून का व्यापार करते हैं। मंगलवार दोपहर को वह अपनी मां कांता देवी, पत्नी मिथिलेश, ढाई साल के बेटे मयंक व चार साल के निशांत के साथ अपनी ननिहाल दौरेठा नंबर दो आए थे। शाम को कांता देवी घर के दरवाजे पर बैठी थीं। इसी दौरान मयंक घर के बाहर आकर दरवाजे के पास ही खेलने लगा। कुछ देर बाद वह लापता हो गया।

शाम तकरीबन छह बजे मयंक को घर में नहीं देखा तो उसकी तलाश की गई। परिजनों ने आसपास की पूरी गलियां छान मारीं। उन्होंने मोहल्ले के सीसीटीवी की फुटेज देखना शुरू किया। एक फुटेज में एक युवक मयंक को गोद में लेकर जाता दिखाई दिया। इस पर पुलिस को सूचना दी गई।

पुलिस सीसीटीवी कैमरों की रिकॉर्डिंग खंगाली। एक फुटेज में एक युवक बालक को अपने साथ लेकर जाता नजर आ रहा है। इस पर पुलिस ने दौरेठा से पृथ्वीनाथ फाटक तक लगे सारे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज चेक की। एक जगह पर मयंक के रोने पर युवक एक दुकान से चाकलेट दिलाता है। कुछ दूर जाकर केला भी खाने के लिए दिया।
पुलिस ने पृथ्वीनाथ फाटक से जाने वाले सभी मार्गों पर लगे कैमरे चेक किए। पुलिस चौकी से भोगीपुरा की ओर आने वाले मार्ग पर आरोपी युवक ई-रिक्शा में मयंक को लेकर जाता नजर आया। एसएसपी प्रभाकर चौधरी के निर्देश पर पुलिस की कई टीमें मयंक की तलाश में जुटी थीं। पुलिस ने सोशल मीडिया पर संदिग्ध के फोटो जारी किए थे।
पुलिस ने बताया कि मथुरा के वृंदावन का रहने वाला मौसिम उस्मानी बच्चे को घर के बाहर से उठाकर ले गया। बच्चे को ले जाते उसका सीसीटीवी फुटेज सामने आया था। वह भोगीपुरा होते हुए आगरा कैंट स्टेशन की तरफ लेकर गया था। इससे पुलिस को सुराग मिल गया। मौसिम और उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया गया है।