Lates News & Updates

Agra Metro Rail Project: पहली टनल बोरिंग मशीन का सफल ट्रायल, अंडरग्राउंड स्टेशन निर्माण में आएगी तेजी

Agra Metro Rail Project गुड़गांव की एक फैक्ट्री में बन रही है मशीन। 17 ट्रेलर लेकर आएंगे एक मशीन को। एक माह में असेंबल होगी मशीन दिसंबर के अंतिम सप्ताह से होगा प्रयोग शुरू। आगरा में मेट्रो ट्रेक 30 किमी होगा लंबा।

UP Metro Rail Corporation उप्र मेट्रो रेल कारपोरेशन (यूपीएमआरसी) की टीम अंडरग्राउंड स्टेशनों का निर्माण तेजी से करने जा रही है। दिसंबर के अंतिम सप्ताह से टनल बोरिंग मशीन (टीबीएम) का प्रयोग किया जाएगा। गुड़गांव की एक फैक्ट्री में टीबीएम का सफल ट्रायल किया गया। मशीन को 17 ट्रेलर से आगरा लाया जाएगा। एक माह में मशीन को असेंबल किया जाएगा फिर दूसरी मशीन को यहां लाया जा

ये है पूरा आगरा मेट्रो रेल प्रोजेक्ट

शहर में मेट्रो ट्रैक Agra Metro Rail Project तीस किमी लंबा होगा। प्राथमिकता वाला कारिडोर छह किमी लंबा होगा। इसमें तीन अंडरग्राउंड स्टेशन और तीन एलीवेटेड स्टेशन बनेंगे। सैम इंडिया द्वारा 1800 करोड़ रुपये से सात अंडरग्राउंड स्टेशनों का निर्माण किया जा रहा है। रामलीला ग्राउंड से मशीन को प्रवेश कराया जाएगा। यूपीएमआरसी के एक अधिकारी ने बताया कि पहली टीबीएम का सफल ट्रायल हो चुका है। जल्द ही इस मशीन को पैक कर आगरा भेजा जाएगा। एक मशीन हर दिन पांच से छह मीटर की खोदाई करेगी। खोदाई के लिए चार मशीनों का प्रयोग किया जाएगा।

मेट्रो डिपो का हो रहा निर्माण

यूपीएमआरसी UPMRC की टीम कमिश्नरी में मेट्रो के पहले डिपो का निर्माण कर रही है। यह 112 करोड़ रुपये से बन रहा है।

यह स्टेशन होंगे अंडरग्राउंड

ताजमहल Taj Mahal, आगरा किला Agra Fort, जामा मस्जिद Jama Masjid, एसएन मेडिकल कालेज SNMC, आगरा कालेज Agra College, राजा की मंडी Raja Ki Mandi, आरबीएस कालेज RBS College

दो बनेंगे कारिडोर

मेट्रो के दो कारिडोर होंगे। सिकंदरा तिराहा से ताज पूर्वी गेट तक पहला कारिडोर 14 किमी लंबा होगा जबकि आगरा कैंट रेलवे स्टेशन से कालिंदी विहार तक दूसरा कारिडोर 16 किमी लंबा होगा।

Post navigation

Leave a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: