उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की रोडवेज बसों में 60 साल की महिलाओं को जल्द मिलेगी फ्री यात्रा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को उप परिवहन विभाग द्वारा ड्राइविंग ट्रेनिंग, टेस्टिंग इंस्टीट्यूट, ऑटोमेटेड ड्राइविंग टेस्टिंग ट्रैक, सारथी हाल और बस अड्डों का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने 150 नयी बीएस-6 डीजल बसों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को उप परिवहन विभाग द्वारा ड्राइविंग ट्रेनिंग, टेस्टिंग इंस्टीट्यूट, ऑटोमेटेड ड्राइविंग टेस्टिंग ट्रैक, सारथी हाल और बस अड्डों का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने 150 नयी बीएस-6 डीजल बसों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।

उन्होंने कहा कि हमने 2019 के कुंभ में श्रद्धालुओं की सेवा के लिए बसों को खरीदा था। उन सभी बसों को हमने परिवहन विभाग को दे दिया था। उसका परिणाम था कि उन बसों ने सदी की सबसे बड़ी महामारी कोरोना के समय प्रदेश में बड़ी सहायक साबित हुई।

कोरोना कालखंड में लॉक डाउन के समय एक करोड़ से अधिक कामगार श्रमिकों को लाने ले जाने के लिए हमने इसका सफलता पूर्वक इस्तेमाल किया। इसमें 40 लाख कामगार अकेले उत्तर प्रदेश के थे। 30 लाख बिहार के थे। झारखंड, बंगाल, उड़ीसा, असम, मध्यप्रदेश, उत्तराखंड राज्यों तक उन लोगों को पहुंचाया गया। मानवीय सहयोग का ये उदाहरण बना। परिवाहनकर्मी इस मानवीयता के उदाहरण बने। इन्होंने जान की परवाह किये बगैर जनता की सेवा की।